KATHAANKAN'S BEST

रंजिश ही सही दिल ही दुखाने के लिए आ
आ फिर से मुझे छोड़ के जाने के लिए आ

  • अहमद फ़राज़

कोई समझे तो एक बात कहूँ
इश्क़ तौफ़ीक़ है गुनाह नहीं

  • फ़िराक़ गोरखपुरी

राह-ए-दूर-ए-इश्क़ में रोता है क्या
आगे आगे देखिए होता है क्या

  • मीर तक़ी मीर

सितारों से आगे जहाँ और भी हैं
अभी इश्क़ के इम्तिहाँ और भी हैं

  • अल्लामा इक़बाल

मोहब्बतों में दिखावे की दोस्ती न मिला
अगर गले नहीं मिलता तो हाथ भी न मिला

  • बशीर बद्र

Blog Collection

FEATURED VIDEO

14 days ago
Interview Session in UnMute Episode 8 Kathaankan Surat
By Kathaankan

Un-Mute Reviews

    No Review Yet!